बोले उद्योगपति- जॉब खोजने के बजाय जॉब पैदा करने पर हो युवाओं का फोकस

0
222

देश के सबसे बड़े यूथ फेस्टिवल इंडिया टुडे #MindRocks16 में शिरकत करने आए उद्योगपतियों ने कहा कि जॉब करने के बजाय युवाओं को जॉब देने वाले की भूमिका तलाशनी चाहिए. उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार के अवसर सृजन के बारे में सोचना चाहिए. बॉम्बे सेविंग कंपनी के को-फाउंडर और सीईओ शांतनु देशपांडे की मानें तो किसी भी काम को करने के लिए उसपर फोकस पूरी तरह से होना चाहिए, इसके लिए शांतनु ने दिनचर्या में योग को अपनाने की सलाह दी.

वहीं कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे चुम्बक के को-फाउंडर विवेक प्रभाकर ने कहा कि कामयाबी के लिए किताबी जानकारी अहमियत रखती है, लेकिन एक सफल उद्यमी बनने के लिए किताब के बाहर की भी जानकारी जरूरी होती है. प्रभाकर की मानें तो उद्योगपति को रास्ते में कई तरह की अड़चनें आती हैं. कुछ लोग आपको पीछे धकलने की कोशिश करेंगे, लेकिन ऐसे वक्त में सही रणनीति के बल पर आप आगे की ओर बढ़ते रहेंगे.

प्रभाकर ने कहा कि वो कुछ ही दिनों के जॉब से उब गए और फिर जॉब छोड़कर कुछ नया करने में जुए गए. उन्होंने कहा कि कुछ ऐसे काम होते हैं कि जिसकी शुरुआत किसी एक इंसान के द्वारा होती है और फिर वो दूसरों के लिए बड़ा प्लेटफॉर्म बन जाता है. प्रभाकर की मानें तो भारत के प्रतिभा की कमी नहीं है बस उस प्रतिभा को एक दिशा देने की जरुरत है, ताकि वो दूसरे के लिए रोजगार पैदा करें.

शांतनु ने कहा कि दुनिया में पैसे कमाने के कई तरीके हैं. लेकिन युवाओं को वो काम करना चाहिए जिसमें उन्हें संतुष्टी मिले और जिसके जरिए वो दूसरों को रोजगार दे सके. इनकी मानें तो ये हमेशा से कुछ नया करने बारे में सोचते हैं और वही सोच एक नई दिशा देती है. साथ ही शांतनु ने कहा कि उद्यम की राह में ग्लैमरस नहीं है, कामयाबी के लिए कई चीजों का त्याग करना होता है.

For Latest all India Govt Jobs Recruitments Visit govt jobs for Staff Nurse in india

कोई जवाब दें